भगवान श्री राम भारतीय संस्कृति के आदर्श पुरुष हैं – राजेश नागर

भगवान श्री राम भारतीय संस्कृति के आदर्श पुरुष हैं – राजेश नागर

22 जनवरी को सभी लोग भगवान राम का पूजन करें और अपने घर प्रतिष्ठानों पर दीये जलाएं

सर्वप्रिय भारत/फरीदाबाद

तिगांव से भाजपा विधायक राजेश नागर ने आज इस्माइलपुर क्षेत्र में आयोजित एक रैली में भागीदारी की जिसमें हजारों की संख्या में लोग शामिल हुए। इसका आयोजन 22 जनवरी को अयोध्या धाम में होने वाली रामलला प्रतिष्ठा के उपलक्ष्य में की गई थी। जिसका संयोजन शीशराम अवाना ने किया।
इस अवसर पर विधायक राजेश नागर ने कहा कि श्री राम हमारे भारतीय संस्कृति के आदर्श पुरुष हैं। हम उनके दिखाए मार्ग को मानते हैं। भगवान श्री राम ने मर्यादा का ऊंचा पाठ हमें पढ़ाया जिसे हम भारतीय अपना आधार मानते हैं। इसी वजह से भारत पूरी दुनिया का सिरमौर है। हमारे ग्रंथ इस बात की गवाही देते हैं कि भारतीय संस्कृति कितनी महान है और हजारों हजार आक्रमणों के बावजूद हम अपने धर्म से डिगे नहीं हैं।
नागर ने कहा कि करीब 500 वर्ष के संघर्ष के बाद अयोध्या धाम में श्री राम मंदिर का निर्माण हुआ है और उसमें श्री राम लला विराजित हो रहे हैं। जिनकी प्राण प्रतिष्ठा का कार्यक्रम हफ्ते भर से चल रहा है और 22 जनवरी को यह कार्यक्रम संपन्न होगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को यह पुरुषार्थ भगवान ने प्रदान किया है। ऐसा श्रेय प्राप्त करने वाले नरेंद्र मोदी इस युग के महापुरुष हैं और उन्होंने जो जीवन में तप जप किया, उसका प्रतिफल आज पूरा देश और दुनिया उन्हें मिल रहा है।
राजेश नागर ने कहा कि हमारे क्षेत्र में 22 जनवरी को हजारों जगह पर लोग सामूहिक रूप से श्री राम लला के प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम का लाइव कवरेज देखेंगे और हजारों जगह पर भंडारे लगेंगे, कीर्तन होंगे और दान आदि के कार्यक्रम होंगे। जिसमें सभी लोग बढ़-चढ़कर भाग लें। उन्होंने सभी से कहा कि वह दिन में भगवान श्री राम का पूजन करें और शाम को अपने घर और प्रतिष्ठानों को दीये और सुंदर लड़ियों से सजाएं। हम अपने भगवान को अपना आराध्य मानते हैं और उनके चरित्र को अपने जीवन में उतारने का प्रयास करें।
यह यात्रा सोमनाथ मंदिर अजय नगर से बसंतपुर, शिव एंक्लेव, बजाज चौक से अटल चौक इस्माइलपुर, गुरुद्वारा नवीन नगर से निखिल बिहार, बसंतपुर कॉलोनी से पंचशील कॉलोनी पार्ट वन, पार्ट 2 तक गयी। जहां जगह-जगह पर लोगों ने फूलमालाओं और जयकारों के साथ स्वागत किया। इस अवसर पर सुंदर झांकियां निकाली गईं। जिसमें श्री रामचरितमानस के प्रमुख पात्र शामिल रहे। इस अवसर पर बालेश्वर जैलदार, निक्कू भड़ाना, अजय अवाना, संदीप, विक्रम, भीम भाई, निंदर भाई, नवीन प्रधान, सोमवीर, राज प्रसाद सिंह, सियाराम झा, शिव मंगल सिंह, सुशील सिंह, कमल सिंह, मनीष लाल, आदित्य कुमार सिंह आदि प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

फोटो संलग्न हैं